Mewat District – मेवात जिले की पूरी जानकारी

Mewat district in haryana

इस पोस्ट में आपको मेवात जिले से संबंधित जानकारी मिलेगी| उम्मीद करता हूँ आपको हमारी मेवात जिले से संबंधित ये पोस्ट काफी पसंद आएगी| आपको हमारी ये पोस्ट कितनी पसंद आयी कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं| 

 

मेवात का इतिहास ( Mewat Ka Itihas )

यह हरियाणा का सर्वाधिक पिछड़ा जिला है। आधुनिक मेवात जिले की स्थापना 4 अप्रैल 2005 को फरीदाबाद ओर गुरुग्राम के कुछ क्षेत्रों को मिलाकर की गई। इसका मुख्यालय नुहं में में स्थित है। यह प्रदेश का सर्वाधिक अनुकूल लिंगानुपात वाला जिला है।

साक्षरता की दृष्टि से यह राज्य का सबसे पिछड़े जिला है। जिले की लगभग 8 प्रतिशत जनसंख्या नगरीय है। मेवात जिले में अरावली की पहाड़ियां स्थित है। इस जिले में पीली मिट्टी पाई जाती है। यहां के लोगो का मुख्य व्यवसाय कृषि पर आधारित है।

Mewat In Hindi
Mewat In Hindi

भारत का पहला चल न्यायालय तथा पहला कन्ट्री क्लब इसी जिले में स्थापित है। इस पहले चल न्यायालय का उद्धघाटन 4 अगस्त 2007 को सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति के० जी० बालकृष्ण ने किया था। यह राज्य का पहला ऐसा जिला है जिसका नाम जिले में स्थित किसी शहर के नाम पर नही है। मेवात जिले में मेव जाती पाई जाती है।

इसे भी पढ़ें :    पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय का इतिहास

 

मेवात पिन कोड ( Mewat pin code )

मेवात जिले का पिन कोड 122103 है।
 

मुख्य झीलें ( Mewat main lakes )

1) कोटला झील

2) संगेल झील ( उज्जीना )

3) चंदेली झील

 

प्रमुख स्थल ( famous place )

1) क्लासिक गोल्फ रिसोर्ट ( classic golf resort ) :-

यह गोल्फ रिसोर्ट अरावली पर्वत श्रृंखला की तराई में लगभग 300 एकड़ में फैला हुआ है। इस गोल्फ रिसोर्ट में 27 होल है। यह पर्यटकों के लिए बेहतरीन गोल्फ का आनंद उठाने का स्थल है।

2) कन्ट्री क्लब (country club ) :-

यह देश का पहला कन्ट्री क्लब है। यह क्लब लगभग 30 एकड़ में फैला है। यहां पर पर्यटकों के ठहरने की उत्तम व्यवस्था की गई है। यह क्लब हरा भरा है। मेवात में ही एक गांधी पार्क है, जिसमे स्थानीय लोग व पर्यटक घूमने के लिए आते है।

3) तावडू :-

यह नगरनुमा कस्बा एक महान ऐतिहासिक विरासत का प्रतिफल है। तावडू का कोई क्रमबद्ध इतिहास तो नही मिलता है, लेकिन इस बात की जानकारी अवश्य मिलती है कि बदलते परिवेश में 360 वर्ष पूर्व एक ऐसा समय आया जब राजा ताहड़ सिंह ने इस क्षेत्र को अपने कब्जे में ले लिया।

लोगों का कहना है कि राजा ताहड़ सिंह की वजह से ही इस क्षेत्र का नाम बदलते बिगड़ते तावडू प्रचलित हो गया।

मुख्य बिंदु  ( other important point in Mewat )

★ शहीद हसन खां मेवाती राजकीय विद्यालय मेवात जिले में स्थित है।
★ मोबाईल कोर्ट कार्यालय मेवात के नुहं में स्थापित किया गया है। यह पहला चल न्यायालय है।
★ ख्वाजा अहमद अब्बास मेवात जिले से थे।

इसे भी पढ़ें :  हरियाणा के धार्मिक स्थलों की सूची

मेवात जिले से पूछे जाने वाले कुछ प्रशन ( mewat questions)

1) मेवात जिले की स्थापना कब की गई?
2) मेवात जिले का मुख्यालय कहाँ है?
3) भारत के पहले चल न्यायालय की स्थापना मेवात जिले में कब की गई थी?
4) मेवात जिले में कौन सी जाती पाई जाती है?
5) मोबाइल कोर्ट का उद्घाटन किसने किया था?
6) कोटला झील कहाँ पर है?
7) उज्जीना झील कहा पर स्थित है?
8) कन्ट्री क्लब किस जिले में स्थित है?
9) हसन खां मेवाती किस जिले से सबन्ध रखते है?
10) मेवात जिले में कौन सी पहाड़ियां है?

 

इसे भी पढ़ें : Wildlife Sanctuary – हरियाणा में वन्य जीव अभ्यारण्य एवं प्रजनन केंद्रों की सूची

उम्मीद करता हूँ दोस्तों हमारी ये पोस्ट Mewat District Ka Itihas In Hindi काफी पसंद आयी होगी| अगर आपको हमारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें| कमेंट बॉक्स में अपनी रॉय जरूर लिखें| अपना कीमती समय देने के लिए आपका बहुत – बहुत धन्यवाद|

Leave a Comment